Header ad
Breaking News

कोरोना के मरीज जो होम आइसोलेशन पर है, किसी प्रकार की घबराहट या भय न रखें: उपायुक्त

फरीदाबाद 28 जून,उपायुक्त यशपाल ने कहा कि कोरोना के जो मरीज होम आइसोलेशन पर है,वह अपने मन में किसी प्रकार की घबराहट या भय न रखें,बल्कि एक सकारात्मक सोच के साथ मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हुए अपना क्वॉरेंटाइन पीरियड पूरा करें। जिला प्रशासन भी आपसे अपेक्षा करता है कि आप जब ठीक होकर घरों से बाहर आएं तो वॉलिंटियर के रूप में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के लिए काम करें तथा उनकी उन सभी समस्याओं का समाधान करें,जिनसे आप गुजरे हैं। उपायुक्त व नगर निगम के आयुक्त यश गर्ग
वीरवार को एक्सपर्ट के साथ ऑनलाइन होम आइसोलेटेड कोरोना पॉजिटिव मरीजों की काउंसलिंग के दौरान उनसे बातचीत कर रहे थे।
नगर निगम के आयुक्त यश गर्ग ने कहा कि जो व्यक्ति कोरोना संक्रमण से ग्रस्त हैं और अपने घरों में आइसोलेटेड हैं,उन सभी से संवाद बनाए रखने के लिए वेबसाइट व हेल्पलाइन नंबर शुरू किए गए हैं। किसी भी प्रकार की परेशानी आए तो मानसिक तनाव में ना आएं। जिला प्रशासन आपकी हर संभव मदद को तत्पर है। अगर किसी मरीज को ज्यादा परेशानी आती है तो उसे तुरंत अस्पताल में दाखिल करा दिया जाता है। उन्होंने कहा कि कोरोना के अधिकतर मामलों में मरीज आसानी से ठीक हो रहे हैं। बहुत कम लोगों में यह गंभीर स्थिति में पहुंचता है। अगर उचित देखभाल रखी जाए तो इसे गंभीर अवस्था में पहुंचने से बचाया जा सकता है। अन्य बीमारियों की तरह इसमें भी करीब 10 दिन में व्यक्ति ठीक हो जाता है। उन्होंने कहा कि इस बीमारी के इलाज के लिए प्लाजमा थेरेपी काफी कारगर मानी गई है। अतः जो मरीज ठीक हो रहे हैं,वह प्लाज्मा दान करने के लिए भी अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं ताकि अन्य लोगों को इसका लाभ मिल सके।
डॉ प्रीति कोचर ने बताया कि कोरोना मरीजों के लिए मानसिक रूप से मजबूत रहना बहुत जरूरी है। हमने किसी भी स्थिति में नेगेटिव विचार की ओर नहीं जाना है। काउंसलिंग से सभी प्रकार की समस्या या घबराहट को खत्म किया जा सकता है। सभी को यह सोचना है कि इस लड़ाई में हम अकेले नहीं हैं। फरीदाबाद में वेबसाइट व हेल्पलाइन से फ्री काउंसलिंग की सुविधा दी जा रही है। अगर किसी व्यक्ति को चिंता या घबराहट है तो वह वेबसाइट या हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकता है। सभी मरीजों की चिंता को दूर करने के लिए मनोवैज्ञानिकों की एक टीम काम कर रही है।
कुंदन कुमार ने बताया कि कोरोना मरीज यूआरएल लिंक https://faridabad.swasth.app/consult-with-doctors या हेल्पलाइन नंबर 0124-6811070 पर अपनी समस्या शेयर कर सकते हैं। उसकी समस्या के समाधान के लिए वापस उन्हें कॉल किया जाएगा। रेणुका यादव ने बताया कि कोरोना मरीज को प्रतिदिन की रोटी-सब्जी वाली डाइट तो लेनी ही है,लेकिन इसके अलावा उन्हें फ्रूट्स व सब्जियों पर अधिक ध्यान देना है। फ्रूट्स में इस बात का ध्यान रखें कि प्लेट में इंद्रधनुष के सभी रंगों के फल होने चाहिए। इसी प्रकार हमें अंकुरित चीजें अवश्य खानी हैं,इनसे इम्युनिटी मजबूत बनती है। इसके अलावा बादाम,अखरोट, मकई आदि भी खाने चाहिए। इसके अलावा पीने की वस्तुओं में अदरक व हरी हल्दी यानी कच्ची हल्दी का मिक्सचर बनाकर इसे 5 से 10 मिनट तक उबाल लें तथा बाद में नींबू व शहद डालकर पीने से बहुत लाभकारी होता है। इसे सुबह के समय पीना चाहिए। इसके अलावा सोंठ,अजवाइन,मुलेठी, लोंग,जीरा सभी चीजें बराबर मात्रा में मिलाकर इन्हें उबालकर काढ़ा बना सकते हैं तथा दिन में जब भी कुछ पीने का मन हो तो इसे पीते रहें,इससे काफी लाभ होगा। कुछ समय धूप में भी बैठना जरूरी है। तुलसी का सेवन भी काफी लाभदायक है। इसके अलावा ग्रीन जूस बनाएं। मौसमी,नींबू आदि जिसमें विटामिन सी भरपूर मात्रा में है,का सेवन करते रहें।
उन्होंने कहा कि खाने में कुछ चीजों से सावधानी बरतने की भी आवश्यकता है,जैसे फ्रीज में रखी कोल्ड ड्रिंक व तली हुई चीजों का सेवन करने से परहेज करें। बाहर की वस्तुएं व पैकेट वाली वस्तुएं खाने से बचें।
आयुष विभाग से डॉ समित ने बताया कि विभाग की ओर से इम्युनिटी मजबूत बनाने संबंधी गोलियां वितरित की जा रही हैं। आयुष विभाग की ओर से अब तक 125 कंटेनमेंट जोन में इम्युनिटी मजबूत करने वाली गोलियां करीब 34 हजार 190 लोगों तक वितरित की जा चुकी हैं। उन्होंने बताया कि इसके अलावा नगर निगम फरीदाबाद व पुलिस विभाग को भी गोलियां दी गई हैं,कुल मिलाकर अब तक 58 हजार 794 लोगों तक यह गोलिया पहुंचाई जा चुकी हैं। उन्होंने बताया कि यह दवाई घर पर भी आसानी से बनाई जा सकती है जिसमें काली मिर्च,चमच में एक चौथाई हिस्से की दालचीनी,एक चौथाई हिस्सा सोंठ,तुलसी के 5 पत्ते व पांच मुनक्का व गुड़ उबालकर पिएं। यह काफी लाभदायक रहता है। विभाग की ओर से नाक में डालने के लिए अनु तेल का भी वितरण किया जा रहा है। घर से बाहर निकलते वक्त इस तेल को 5 मिनट पहले नाक में डालने से कोरोना का प्रभाव से नहीं हो पाएगा।

About The Author

Related posts